Parts of speech in Hindi; Everything about

 

 

 

 

 

Parts of speech in Hindi

हम जब किसी भी तरह के वाक्य को बोलते या लिखतें हैं तो हमें बोलने और लिखने के लिए शब्दों के समूह की आवश्यकता होती है।  जो एक अर्थ पुर्ण होता है या कुछ मतलब निकलता है।

वाक्यों में प्रयुक्त इन शब्दों को एक नाम दिया गया है , जिन्हें Parts of speech कहा जाता है।इन शब्दों के सही प्रयोग को जानने के लिए इसे आठ भागो में बांटा गया है, जिन्हे शब्द भेद (Parts of speech) कहते हैं।

Parts of speech in Hindi

There are eight kinds of “Parts of speech” in English grammar.

  1. Noun ( संज्ञा )
  2. Pronoun ( सर्वनाम )
  3. Adjective ( विशेषण )
  4. Verb ( क्रिया )
  5. Adverb (क्रियाविशेषण )
  6. Preposition ( सबंध सुचक अव्वाय या पूर्वसर्ग )
  7. Conjunction (संयोजक )
  8. Interjection (विस्मयादिबोधक )

इन सभी भागो कोबिस्तर से जाने :-

  1. Noun ( संज्ञा ):- noun is a naming word. किसी भी प्राणी , वस्तु , जगह अदि के नाम को संज्ञा कहते हैं।

Cow , pen , Delhi ,book etc.

There are five kinds of noun.  संज्ञा पांच तरह के होतें हैं।

  • Proper Noun ( व्यक्तिवाचक संज्ञा )
  • Common Noun ( जातिवाचक संज्ञा )
  • Collective Noun ( समुहवाचक संज्ञा )
  • Material Noun (पदार्थवाचक संज्ञा )
  • Abstract Noun ( भाववाचक संज्ञा )

Parts of speech in Hindi

(a). Proper Noun ( व्यक्तिवाचक संज्ञा )- व्यक्तिवाचक संज्ञा किसी खास प्राणी , व्यक्ति , वस्तु , जगह , अदि नाम के लिए होता है।

Eg- Cow ,pen ,Pencil , Hazaribagh, Newyork,

      Roky is a intelligent boy in the class room.

This pen is red.

रोकी यंहा पर व्यक्तिवाचक संज्ञा है।  इस वाक्य में किसी एक या खास के बारे ने बात की जा रही है।

दूसरे वाक्य में कलम के बारे में बात की जा रही है। यंहा  किन्ही खास पर बातें होती है। इसमें कलम  व्यक्तिवाचक        संज्ञा होगी।

(b ). Common Noun ( जातिवाचक संज्ञा )- जातीवाचक संज्ञा पुरे जाती भर का बोध कराती है।  इसमें जो भी बात होती है वह पुरे जाती भर के लिए होती है।

Cow is gentle.  Sugar is sweet. The elephant has big ear.

अर्थात वह जो इस पुरे में समानता हो।

(c ) Collective Noun (पदार्थवाचक संज्ञा )- समूहवाचक संज्ञा व्यक्ति , वास्तु  इत्यादि के समूह कोदर्शाता  है।

Eg-  People ( लोग )   Group of persons

Crowd ( भीड़ ) Group of persons

Batch  ( बैच )  Group of students

Team  ( टीम ) Group of  players

Bunch ( गुच्छा ) Group of grapes

Family  ( परिवार ) Group of members

( d ) Material Noun (पदार्थवाचक संज्ञा )- पदार्थवाचक संज्ञा वह है जो नापा या तोला जा सके। यह सभी पदार्थ का         नाम होता है।

Eg- Milk, Water, Rice, Gold, Silver e.t.c.

( e ) Abstract Noun ( भाववाचक संज्ञा )- भाववाचक संज्ञा वह शब्द है जिसे हम छू नहीं सकतें , इसे सिर्फ महसुस कर सकतें हैं।

Eg- Honesty ( ईमानदारी )                 Faith  ( विश्वाश )

Poverty  ( गरीबी )                         Cheat ( धोखा )

Friendship                                                Expectation ( उम्मीद )

Love ( प्यार )                                 Feeling (भावनाएं )

Theft ( चोरी )                                  Thinking ( सोंच )

Hate ( घृणा )                                   Time  ( वक्त )

Parts of speech in Hindi

  1. Pronoun ( सर्वनाम )- संज्ञा के बदले में प्रयोग होने वाले शब्द को सर्वनाम कहतें हैं। आसान भाषा में कहें तो जब हम किसी के नाम के बदले में कुछ और कहतें हैं तो वह सर्वनाम कहलाता है।

जैसे- अगर हम कहें की अरनवी किताब पढ़ रही है। तो यंहा पर हम एक नाम लिए है अरनवी।

अब एक दूसरा वाक्य लेते हैं जिसमे इसी वाक्य को ऐसे कहेंगे ,

की वह किताब पढ़ रही है। तो इस वाक्य में अरनवी के बदले में वह का प्रयोग किया गया जो एक सर्वनाम है।

I ( मैं )                                                    Those ( वे )

We ( हम / हमलोग )                               These ( ये )

You ( तुम /आप / तुमलोग /हमलोग )         That (वह )

He ( वह )                                              This ( यह )

She ( वह )                                             They ( वें / वें लोग )

It ( यह )

He is mad.                   They are good.                        You are farmer.

Brother is his not Ram’s.                                              We were in Dehradun.

  1. Adjective ( विशेषण )- विशेषण वह शब्द या शब्दों का समुह जो किसी संज्ञा या सर्वनाम की विशेषता बताता है।

Eg – रोहित चालाक लड़का है।

इस वाक्य में रोहित की विशेषता चालाक होने की हो रही है। इसमें चालाक एक विशेषण है।

Tall ( लम्बा )

Short ( छोटा )

Big ( बड़ा )

Great ( महान)

Deep ( गहरा )

Long (लम्बा )

Wide ( चौड़ा )

  1. Verb ( क्रिया ) – क्रिया का तात्पर्य काम का बोध होने से है , यह काम चाहे हम अपने हाँथ -पाव से करें या अपने अपने दिमाग से। क्रिया कहलाता है।

जैसे – सोचना   ( सोचना एक काम है जो हम दिमाग से करतें हैं )

चलना              घूमना          बोलना           देखना            जाना

आना              नाचना         खाना             कहना           सोना      देना       इत्यादि।

  1. Adverbs ( क्रिया विशेषण ) – क्रिया विशेषण वह शब्द या शब्दों का समुह है जो क्रिया की या फिर विशेषण की विशेषता बताता है।

Eg. -राम तेज दौड़ता है।

मैं देर तक पड़ता हुँ।

रितिका बहुत सुन्दर है।

रमेश थोड़ा पागल है।

यंहा पर तेज , देर तक , बहुत, थोड़ा क्रिया विशेषण है।

Mohan is very good boy.

You and your brother is very intelligent.

The water is blowing very slowly in the river.

The farmer is very laborious.

Fast (तेज)                      slowly  (धीरे)                 few (थोड़ा )

  1. Interjection ( विस्मयादिबोधक )- अचानक हुयी किसी घटना से हमारे मन की भावना को व्यक्त करना या मन में उत्पन्न ख़ुशी , दुःख , हैरानी , शाबाशी इत्यादि को विस्मयादिबोधक कहतें हैं।

Hurrah! , Great! , Wow! , Thanks! , What! , Well done! , Oh my God! , My Goodness! , Amazing! ,        Please! , Sure! , Oops! , How sad! Etc.

  1. Preposition ( सम्बन्ध सूचक अव्यय / पूर्वसर्ग )- वह शब्द या शब्दो के समूह जो किसी संज्ञा या सर्वनाम वाक्य के दूसरे भाग के बिच के सम्बन्ध को दर्शाता है।

Eg. -You are coming from Mumbai.

Rahul drinks water from glass.

I go to Patna by bus.

You can take this from market.

From (से )                                             Opposite (विपरीत )

Off (से )                                                            With (साथ )

Since (से)                                              After ( बाद )

For (के लिए )                                         Before (पहले /सामने )

In (में )                                                   Into (में )

  1. Conjunctions ( समुच्चय बोधक अव्यय )- वह शब्द जो दो वाक्यों को जोड़ता है और अर्थ भी नहीं बदलता है।

आगर ये कहा जाय की रोहित अच्छा है और फिर कहा जाय की सुधीर अच्छा है।  तो अगर ये दोनों अच्छे हैं तो ये बिलकुल कहा जा सकता है की रोहित और सुधीर अच्छे हैं। इस तरीका से ये दोनों वाक्य को और लगाकर एक वाक्य में बदला गया और इसका अर्थ भी नहीं बदला। यंहा पर और कंजंक्शन होगा।

Eg-

Ram and Shyam are good.

Rohit can go anywhere but your home.

I went so you came.

I went hence you came.

As soon as he came, I left.

And (और )

Or ( या )

But (लेकिन,बल्कि,सिवाय )

For /As /Because /since ( क्योंकि, चूँकि )

Also /Even /Either /Too/As well (भी )

So /Hence /Henceforth /That’s why /There for /That’s the reason (इसलिए )

Parts of speech in Hindi

 

Parts of speech in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published.